रिलीज होने से पहले शाहरुख खान की फिल्म पठान में हुए 3 बड़े बदलाव, क्या भगवा बिकिनी को भी हटाया गया?

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण स्टार पठान मूवी का फैंस बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। फिल्म आगामी 25 जनवरी को सिनेमाघरों में रिलीज होगी। हालांकि, फिल्म के ट्रेलर और गाने “बेशर्म रंग” को लेकर अब तक काफी विवाद हो चुका है। इस बीच सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (CBFC) ने शाहरुख खान की पठान के गाने बेशर्म रंग में तीन बदलावों की सिफारिश की है।

pathan movie

रिलीज होने से पहले शहरुख की यह फिल्म खूब चर्चा में है, क्योंकि लंबे समय के बाद उनकी यह फिल्म आने वाली है। इस मूवी को रिलीज होने से पहले कुछ विवाद भी देखने को मिला है, इस वजह से अब इसमें कई बदलाव किए गए हैं। पठान फिल्म में दीपिका पादुकोण भगवा बिकिनी की वजह से खूब चर्चा में है तो अब अवाल उठता है कि क्या इसमें बदलाव किया गया है तो चलिए अब हम इन सबके बारे में जानते हैं।

बेशर्म रंग गाने में हुआ बड़ा बदलाव

बता दें कि इस गाने में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने भगवा रंग की बिकिनी पहन रखी है, जिसे लेकर कुछ राजनीतिज्ञों में आपत्ति जतायी है। हालांकि, “आंशिक नग्नता” का हवाला देते हुए, सेंसर बोर्ड ने पठान निर्माताओं से कहा है कि “बहुत ही तंग किया” के बोल के दौरान क्लोज़-अप बटक शॉट्स, साइड पोजिशन और कुछ जगह के डांस शॉट्स को बदलने का निर्देश दिया है। हालांकि, भगवा बिकिनी को लेकर किसी बदलाव का निर्देश दिया गया है या नहीं, ये फिलहाल पता नहीं चला है।

डायलॉग्स में भी हुए बदलाव

सेंसर बोर्ड ने कई अन्य सिफारिशें भी की हैं। फिल्म के कुछ डायलॉग्स को  बदलने का आदेश दिया गया है। इनमें ‘इससे सस्ती स्कॉच नहीं मिली’ को ‘इससे सस्ती ड्रिंक नहीं मिली’ से बदलना होगा। टेक्स्ट ‘ब्लैक प्रिज़न, रूस’ को ‘ब्लैक प्रिज़न’ से बदलने की आवश्यकता है। ‘अशोक चक्र’ को हटाकर ‘वीर पुरस्कार’, ‘पूर्व-केजीबी’ को ‘पूर्व-एसबीयू’ और ‘श्रीमती भारतमाता’ को ‘हमारी भारतमाता’ से बदलने के लिए कहा गया है।

सेंसर बोर्ड द्वारा 10 से अधिक कट की सिफारिश की गई है, जिसमें प्रासंगिक रूप से रॉ शब्द को ‘हमारे’ से बदलना शामिल है, ‘लंगड़े लुल्ले’ को ‘टूटे फूटे’ से बदलने की जरूरत है और साथ ही ‘पीएमओ’ शब्द को 13 स्थानों से हटाये जाने का निर्देश भी दिया गया है। संक्षिप्त नाम ‘पीएम’ को मंत्री या राष्ट्रपति द्वारा प्रतिस्थापित करने की भी आवश्यकता बताई गयी है।

संशोधनों के बाद मिला U/A सर्टिफिकेट

खबरों की मानें, तो इन संशोधनों के बाद 2 जनवरी को, सीबीएफसी ने पठान निर्माताओं को सेंसर प्रमाणपत्र जारी किया। फिल्म को U/A सर्टिफिकेट मिला है, और प्रकाशन के अनुसार, पठान 2 घंटे 26 मिनट की है।

बता दें कि बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने गत 4 दिसंबर को अहमदाबाद के वस्त्रापुर में अल्फा वन मॉल में हंगामा किया। विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के एक प्रभाग बजरंग दल के सदस्यों ने अपने विरोध के दौरान शाहरुख खान और उनके सह-कलाकारों के पोस्टर फाड़ दिए। कट दिखाते हुए सीबीएफसी सर्टिफिकेट की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। लाइवमिंट, हालांकि, इसकी वैधता की पुष्टि करने में असमर्थ था।

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!