जब करिश्मा कपूर को मिला था रेखा का सौतन बनने का ऑफर, फिर बुरी तरह घबरा गई थी करिश्मा, जानें वजह

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

90 के दशक के दौरान बॉलावुड की मशहूर और खूबसूरत अभिनेत्री करिश्मा कपूर ने कई हिट फिल्में दी हैं, जिनमें एक नाम जुबैदा का भी शुमार है। साल 2001 में रिलीज हुई इस फिल्म को श्याम बेनेगल ने निर्देशित और खालिद मोहम्मद ने लिखा था। फिल्म में करिश्मा कपूर, रेखा, मनोज बाजपेयी, सुरेखा सीकरी, रजित कपूर, लिलेट दुबे, अमरीश पुरी, फरीदा जलाल और शक्ति कपूर को देखा गया था।

Karisma Kapoor and rekha

करिश्मा का रोल फिल्म में फैंस को काफी पसंद आया था, लेकिन काफी कम लोगों को पता है कि करिश्मा ने इस फिल्म को साइन करने से पहले घबराहट महसूस की थी। दरअसल फिल्म में करिश्मा को रेखा की सौतन का रोल निभाना था, जिस वजह से वो थोड़ी नर्वस हो गयी थीं। दोनों को मनोज वाजपेयी की पत्नी का रोल मिला था।  

फिल्मकार श्याम बेनेगल ने जब करिश्मा को फिल्म में ऑफर किया तो वह जुबैदा बेगम का किरदार निभाने से झिझक रही थीं। जब शूटिंग हुई तो दोनों एक्ट्रेसेस को एक खास वजह से वॉर्निंग भी दी गई थी। वहीं, खबरों की मानें तो करिश्मा से पहल  ये रोल मनीषा कोइराला को ऑफर किया गया था, लेकिन उन्होंने भी रोन निभाने से मना कर दिया था।

खुद को तैयार नहीं कर पाईं करिश्मा कपूर

करिश्मा कपूर को जब ‘जुबैदा’ की स्क्रिप्ट दी गई थी तो वो रेखा को लेकर नर्वस थीं। एक वजह ये भी थी कि उन्होंने इससे पहले इतना गंभीर रोल कभी नहीं किया था। मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में एक्ट्रेस ने खुद बताया था कि मैं खुद को इस रोल के लिए तैयार नहीं कर पा रही थी, इसलिए मुझे फिल्म साइन करने में काफी वक्त लग गया।

दरअसल रेखा बचपन से ही करिश्मा कपूर और उनके भाई बहनों से बेहद स्नेह करती थी। वे रणधीर कपूर के साथ काम कर चुकी थी, जिस वजह से उनका मिलना लगा रहता था। हालांकि, फिल्म के बारे में करिश्मा ने एक दफे कहा था कि रेखा जी के साथ काम करना उनके लिये एक अनोखा अनुभव था।

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!