बाथरूम में मिला नोटों की गड्डी, तो इस अभिनेत्री ने कहा कि उसने वेश्यावृत्ति करके पैसे कमाए हैं

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

आपकी नजरों ने समझा, प्यासा, धूल का फूल, फिर सुबह होगी, अनपढ़ जैसी फिल्मों से नाम कमाने वाली बॉलीवुड की खूबसूरत अभिनेत्री माला सिन्हा अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्रियों में से एक थी। मशहूर अभिनेत्री माला सिन्हा ने बादशाह, हेलमेट, न्यू एज, एक गांव की कहानी, चंदन, परवरिश से लेकर उजाला जैसी कई फिल्में की हैं।

Mala Sinha

माला अपने करियर में धर्मेंद्र, मनोज कुमार, संजय खान, राजेश खन्ना से लेकर अमिताभ बच्चन के साथ काम किया। उन्होंने करीब 40 साल तक इंडस्ट्री पर राज किया और आजकल वह सिनेमा जगत से कोसों दूर हैं, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब वह हर तरफ छाई रहती थीं। उनका करियर भी विवादों से भरा रहा, जिसे लोग आज भी भुला नहीं पाए हैं।

इस बयान की वजह से खत्म हुआ करियर

माला सिन्हा को लेकर विवाद कई साल पहले तब उठा जब उनके घर पर आईटी ने छापा मारा था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 1978 में इनकम टैक्स ने माला सिन्हा के मुंबई स्थित घर पर छापा मारा था। इस दौरान उनके घर के बाथरूम की दीवार से 12 लाख रुपए मिले। इन पैसों के सामने आने के बाद माला सिन्हा से आईटी ने पूछताछ की और इस दौरान उन्होंने कुछ ऐसा कह दिया, जिसे लोग आज तक भूल नहीं पाए हैं। बताया जाता है कि पिता ने एक्ट्रेस की कमाई में से 12 लाख रुपये निकालकर यहां रख लिए थे। इस घटना से माला सिन्हा बुरी तरह टूट गईं।

मामला कोर्ट में पहुंच गया और कहा जाता है कि बचने का कोई रास्ता ना देख माला सिन्हा ने ये बयान दे दिया था कि उन्होंने ये पैसे वैश्यावृत्ति से कमाये थे। इसके बाद से माला सिन्हा को लेकर लोग आलोचनाएं करने लगे थे। उनके फैंस भी अब उन्हें नजरअंदाज करने लगे।

ऐसी रही है माला सिन्हा की निजी जिंदगी

माला सिन्हा का असली नाम अल्दा सिन्हा था, लेकिन उन्हें अक्सर स्कूल में डालडा कहकर चिढ़ाया जाता था। इस वजह से उन्होंने यह नाम बदल लिया। माला सिर्फ एक्टिंग ही नहीं करती बल्कि बेहतरीन गाने भी गाती थीं। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत रेडियो पर गाने गाकर की थी। इसके बाद उन्होंने बंगाली फिल्मों में काम करना शुरू किया और फिर मुंबई आकर अपना करियर संवारने लगीं। उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म बादशाह थी।

इन फिल्म से मिली थी पहचान

एक दिन मुंबई में उनकी मुलाकात गुरु दत्त और गीता दत्त से हुई। माला सिन्हा के टैलेंट को देखकर दोनों ने उन्हें अपनी फिल्म में लेने का मन बना लिया। गुरु दत्त की फिल्म प्यासा से ही माला सिन्हा को काफी लोकप्रियता मिली। इसके बाद माला सिन्हा ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

इनसे की शादी

बंगाली और बॉलीवुड में हिट होने के बाद माला सिन्हा को नेपाली फिल्मों के भी ऑफर मिलने लगे। फिर उन्होंने एक नेपाली फिल्म के लिए हामी भर दी। इस बीच वह नेपाल जाने लगी। नेपाल में माला सिन्हा की मुलाकात उनके सपनों के राजा चिदंबर प्रसाद लोहानी से हुई। माला नेपाली अभिनेता चिदंबरम को दिल दे बैठे और दोनों ने शादी करने का फैसला किया।

लोहानी का एस्टेट एजेंसी का कारोबार था। शादी के बाद माला फिल्मों की शूटिंग के लिए मुंबई आकर रहने लगीं, जबकि उनके पति नेपाल में रहकर अपना व्यवसाय चला रहे थे। दोनों की एक बेटी है, प्रतिभा सिन्हा, जो बॉलीवुड की पूर्व अभिनेत्री हैं। 1990 के दशक के अंत से, दंपति और उनकी बेटी मुंबई के बांद्रा में एक बंगले में रह रहे हैं।

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!