भारत का ये शख्स बिना हेलमेट पहने चला सकता है बाइक, फिर भी नहीं कटता चालान, जानिए ऐसा क्यों?

Helmet Laws In India: भारत में ट्रैफिक रूल पहले से ज्यादा सख्त हो चुके हैं। हर बात पर ट्रैफिक पुलिस चालान काटने को तैयार रहती है क्योंकि उन्हें ऊपर से आदेश होते हैं। ट्रैफिक नियम में हेलमेट ना पहनने वालों का चालान काटा जाता है। अलग-अलग राज्यों के अलग चालान निर्धारित किए गए हैं जो टू व्हीलर्स चलाने वालों को देना होता है। सोशल मीडिया पर भी आपने कई बार देखा होगा कि ट्रैफिक पुलिस हेलमेट पहनने की नसीहत देती रहती है। लेकिन कुछ लोगों को हेलमेट ना पहनने की छूट है और उनका चालान भी नहीं कटता है।

Helmet Laws In India

लोग बाइक या स्कूटी चलाते हैं तो हेलमेट पहनने का नियम है। फोर व्हीलर्स चलाने वालों को सीट बेल्ट लगाने का नियम बनाया गया है। अगर ऐसा कोई नहीं करता है तो चालकों का चालान काट दिया जाता है। लेकिन हम आपको उन लोगों के बारे में बताने जा रहे हैं जो लोग हेलमेट नहीं पहनते हैं तो उनका चालान नहीं कटता है। कुछ लोगों के लिए इसकी पूरी छूट है चलिए आपको इसके बारे में विस्तार से बताते हैं।

हेलमेट को लेकर कुछ ऐसा है ट्रैफिक नियम (Helmet Laws In India)

हेलमेट रेगुलेशन एंड लॉ इन इंडिया के अनुसार, दो पहिया चालकों को हेलमेट लगाना जरूरी है। सेक्शन 129 में लिखा है कि 4 साल से ज्यादा का कोई भी बाइक या स्कूटी पर बैठता है तो उसे हेलमेट लगाना जरूरी है। अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो एक हजार रुपये का जुर्माना लगता है या फिर ड्राइविंग लाइसेंस तीन महीने के लिए रद्द कर दिया जाता है। कई मामलों में ट्रैफिक पुलिस वाले दोनों ही सजा दे सकते हैं। लेकिन एक ऐसा तबका है जिनके हेलमेट ना पहनने पर कोई चालान नहीं काटा जाता है।

वो समुदाय सिख है जो सिर पर पगड़ी बांधते हैं। भारत सरकार के ट्रैफिक नियम में सिख समुदाय के हेलमेट ना पहनने की छूट है। ऐसा इसलिए क्योंकि वो लोग हेलमेट नहीं पहन सकते हैं वो पगड़ी पहनते हैं इसलिए उन्हें छूट मिलती है। सिख समुदाय के लिए पगड़ी बहुत अहम होती है जिसे वो कभी उतारते नहीं हैं और ना उतार सकते हैं। इसलिए भारत सरकार ने सिख समुदाय के लोगों को हेलमेट ना पहनने की छूट दी है और हेलमेट के कारण उनका चालान नहीं कटता है।

भारतीय ट्रैफिक पुलिस कानून के मुताबिक, हेलमेट ना पहनने पर, तीन लोगों की सवारी पर, पूरे कागज ना होने पर चालान काट सकते हैं। चालान काटने के साथ ही ट्रैफिक पुलिस उन्हें जेल में भी भिजवा सकते हैं। ट्रैफिक नियमों को काफी सख्त कर दिया गया है और इस वजह से चालान के भी जुर्माना भी काफी ज्यादा हो गया है। सिर्फ सिख समुदाय के लोगों को छोड़कर हर किसी को हेलमेट पहनना चाहिए। लोगों को हेलमेट पुलिस से बचने के लिए नहीं पहनना चाहिए बल्कि खुद की सुरक्षा के लिए पहनना चाहिए।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें