एक से ज्यादा बैंक अकाउंट इस्तेमाल करने वाले हो जाएं सावधान, वरना होगा ये नुकसान, 95 प्रतिशत लोग नहीं जानते हैं ये बात

बच्चा हो या बुढा, आज के समय में हर किसी का बैंक अकाउंट होता ही है। इनमें से कई लोग ऐसे भी होते हैं जिनके एक से ज्यादा बैंक अकाउंट भी होते होंगे। लेकिन आपको बता दें कि एक से ज्यादा बैंक में खाते खुलवाने से कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आए दिन बैंक से जुड़े नए नियम बनते और बदलते रहते हैं। जिनमें से एक बैंक नियम और लागू किया गया है।

Multiple Bank Account

इस नए नियम के हिसाब से जिस किसी व्यक्ति का सेविंगस अकाउंट है ,ऐसे में उस व्यक्ति को अपने अकाउंट को मेंटेन करके रखना होगा, क्योंकि जिस व्यक्ति ने भी बैंक के नियम को नहीं अपनाया तो ऐसे में बैंक पेनेल्टी के तौर पर आपसे फाइन भी वसूल कर सकती है ,यानी आपके अकाउंट से पैसे काट सकती है।

क्या सैलरी अकाउंट अब सेविंग्स अकाउंट बन गया है…

जिस अकाउंट में सैलरी आती है उसे सैलरी अकाउंट कहते हैं। इस अकाउंट से संबंधित भी बैंक ने नया नियम लागू किया है जिसके मुताबिक यदि आपके सैलरी अकाउंट में तीन या इससे भी ज्यादा महीनों तक अमाउंट नहीं आया तो आपका सैलरी अकाउंट सेविंग्स अकाउंट में तब्दील हो जाएगा। आपको बता दें कि सैलरी अकाउंट सेविंग्स अकाउंट में कन्वर्ट होने की वजह से बैंक अपने नियमों को भी पूरी तरह से बदल देती है।

बैंकों का ट्रीटमेंट भी बदल जाता है ।दरअसल बैंको के मैनेजर का यह कहना है कि जिन लोगों का सेविंग्स अकाउंट है या जो लोग सेविंग्स अकाउंट खुलवाना चाहते हैं उन सभी से यह अनुरोध है कि वह सभी लोग अपने अकाउंट को अच्छे से मेंटेन करके रखें नहीं तो उनके अकाउंट से फाइन के तौर पर पैसे काटे जा सकते हैं। बैंक से पैसा कटने की वजह से आपको कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है।

यदि आपके एक से अधिक अकाउंट हुए तो आपको कई सारी दिक्कतों से गुजरना पड़ सकता है जैसे ज्यादा अकाउंट होने से आपका अमाउंट बढ़ सकता है जिससे आपका पैसा बैंक में ही फंसा रह सकता है।जिसकी वजह से आपको पैसे निकालने के समय दिक्कत हो सकती है ।आपको बता दें कि जो राशि आपकी फंसी हुई होगी उसका इंटरेस्ट रेट भी काफी कम होता है ।तो इसलिए बेहतर होगा कि आप एक से ज्यादा अकाउंट ना खुलवाएं ताकि आगे जाकर आपका कोई नुकसान न हो पाए।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें