भारत के इन 7 फूड को विदेशों में किया जा चुका है बैन, वजह जानकर लोग रह जाते हैं हैरान

भारतीय भोजन पूरी दुनिया में चर्चित है, क्योंकि यहां के खाने का स्वाद बहुत ही जबरदस्त होते हैं। भारत के लोगों के दिल में बसने वाले कुछ खाने जो विदेश में बैन है। भारतीय खानपान में अत्यधिक मसाले और तेल इस्तेमाल किया जाता है जो विदेशों में गलत माना जाता है। उन लोगों का मानना है कि खाने में ज्यादा मसाले और तेल का इस्तेमाल करने से शरीर में बीमारियां बनती हैं।

Indian food

भारत में बहुत सारे ऐसे फूड है जिसे लोगों द्वारा खूब पसंद किया जाता है, लेकिन दुनिया के कुछ देशों में उसे बैन कर दिया गया है। अब सवाल उठता है कि इसके पीछे की वजह क्या है? जब आप उसका कारण जानेंगे तो आपको भी हैरानी होगी। तो चलिए अब हम आपको उन फूड्स के बारे में बताते हैं जिसे विश्व के अलग-अलग देशों में बैन कर दिया गया है।

1. समोसा

भारतीय स्ट्रीट फूड के दिल की जान है समोसा। यह गर्म और स्वादिष्ट होते हैं जो भारतीय लोगों को बहुत ज्यादा पसंद है। लेकिन विदेशों में समोसे पर प्रतिबंध लगाया गया है, क्योंकि वहां के नियमों और मानव स्वास्थ्य पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

2. पानी पुरी

इस खाने को लोग अत्यधिक पसंद करते हैं। इसका चटपटा पानी लोगों का दिल जीत लेता है। भारतीय समाज में पानी पुरी को सबसे ज्यादा खाया जाता है मगर कई देशों में पानी पुरी को बैन किया गया है, क्योंकि इसे खाने से पेट की समस्याएं बनती हैं।

3. च्यवनप्राश

च्यवनप्राश को सर्दी जुखाम या इम्यूनिटी बूस्टर के तौर पर खाया जाता है। इसे खाने से शरीर में बहुत से फायदे होते हैं। मगर विदेशों में यह च्यवनप्राश बैन है। कनाडा में साल 2005 में च्यवनप्राश पर यह कहकर बैन लगाया गया था कि इसमें सबसे ज्यादा लीड और मर्करी पाई जाती है।

4. घी

भारतीय खानपान में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला – घी। इसे रोटी और सब्जी में मिलाकर खाया जाता है। मगर अमेरिका में इस पर बैन लगाया गया है, क्योंकि उनके अनुसार घी को खाने से हाई ब्लड प्रेशर तथा मोटापे जैसी बीमारियों का खतरा बनता है।

5. खसखस

बात करें खसखस के बीजों की तो इस पर सबसे ज्यादा विवाद हुआ था। भारतीय खानपान में इसका इस्तेमाल शरबत से लेकर बहुत सी चीजों में किया जाता है। मगर इस पर सिंगापुर ताइवान, सऊदी अरब और यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका जैसे देशों में पाबंदी लगाई गई है, क्योंकि इसमें अत्यधिक मात्रा में मॉर्फिन पाया जाता है।

6. कबाब

यह व्यंजन सबसे ज्यादा भारत में मिडल ईस्ट के लोग खाते हैं। मांसाहारी लोगों के लिए कबाब सबसे पसंदीदा व्यंजन है। मगर 2017 में वैनिस में इस पर बैन लगा दिया गया था। उनका मानना था कि इससे शहर की परंपरा और अनुशासन में बाधाएं आ रही हैं।

7. चिंगम

यह चेहरे की चर्बी को हटाने में मदद करता है। मगर सिंगापुर में चिंगम को साल 1992 में बैन कर दिया गया था। सिंगापुर में बहुत से लोग चिंगम खाकर उसे कहीं भी थूक देते थे, जिसकी वजह से वहां पर गंदगी फैलती थी। इसलिए सिंगापुर में चिंगम पर बैन लगा दिया गया।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें