गले में कैंसर होने से पहले दिखते हैं ये 5 संकेत, समय रहते करें पहचान, वरना जा सकती है जान

कैंसर एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है, जिस पर अगर शुरुआत में ध्यान ना दिया जाए तो ये व्यक्ति की मृत्यु का कारण भी बन सकता है। गले का कैंसर (Throat Cancer) ही ज्यादा खतरनाक होता है, शुरुआती स्थिति में आपकी आवाज में होने वाले बदलाव पर अगर आपने ध्यान नहीं दिया, तो ये आपके लिए आगे चलकर खतरनाक स्थिति पैदा कर सकता है।

Throat Cancer

अगर किसी भी व्यक्ति की नाक बंद है, गले या कान में दर्द है, गर्दन में सूजन है या उसे निगलने में कठिनाई हो रही है तो इन लक्षणों को कभी भी नजर अंदाज नहीं करना चाहिए। ध्यान देने वाली बात तब हो जाती है जब ये लक्षण दो से तीन सप्ताह के अंदर ठीक नहीं हो रहे हैं। तो बिना देरी के डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए, क्योंकि ये लक्षण गले के कैंसर का कारण बन सकते हैं। 

क्या है गले का कैंसर

गले के कैंसर की स्थिति में आपके गले में एक ट्यूमर बन जाता है। जब व्यक्ति में गले के कैंसर के लक्षण होते हैं तो इसकी हड्डी पर असर पड़ता है। गले के कैंसर के बहुत से कारण होते हैं जैसे कि अधिक मात्रा में धूम्रपान करना, शराब का अधिक मात्रा में सेवन करना, पेट से जुड़ी कोई समस्या जैसे कि एसिड रिफ्लेक्शन, अधिक मात्रा में तंबाकू का सेवन करना, और आपके शरीर में होने वाली पोषक तत्वों की कमी कुछ ऐसे लक्षण है जिनकी वजह से गले के कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है अगर आपने सही समय पर इसका इलाज नहीं किया तो आपको परेशानी हो सकती है। 

कैसे पता लगाएं कि गले के कैंसर की हो चुकी है शुरुआत

गले का कैंसर होने की स्थिति में हमारा शरीर कुछ लक्षण प्रकट करता है, साधारणतः लोग उस पर ध्यान नहीं देते हैं, लेकिन यही लक्षण आगे चलकर गंभीर समस्या बन सकते हैं। गले के कैंसर की स्थिति में जो लक्षण प्रकट होते हैं, वो कुछ इस प्रकार से हैं—

1. सांस लेने में तकलीफ होना

अगर आपको लंबे समय से सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो इसे नजरअंदाज ना करें, क्योंकि ये एक प्रमुख लक्षण है गले के कैंसर का। वैसे तो सर्दी, जुकाम, बुखार की स्थिति में भी सांस फूलने लगती है, लेकिन अगर ये स्थिति ज्यादा लंबे समय तक बनी रहे तो तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करें। 

2. गले में खराश होना

अगर आपको लंबे समय से गले में खराश की समस्या है, तो आम से दिखने वाली ये समस्या गले के कैंसर का कारण भी बन सकती है। इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, डॉक्टर से कंसल्ट करके उचित स्टेप उठाएं। 

3. खांसी आना

वैसे तो सर्दी और जुकाम में भी खांसी की समस्या हो जाती है लेकिन खांसी अगर लंबे समय से आ रही है और खांसी के साथ अगर खून की बूंदे भी आती है तो एक चिंताजनक बात है इस स्थिति में तुरंत ही स्वास्थ्य विशेषज्ञ से परामर्श ले और इसका इलाज कराएं। 

4. वजन कम होना

कैंसर कोई भी हो इसका सबसे महत्वपूर्ण लक्षण है,कि व्यक्ति का वजन अपने आप कम होने लगता है। अगर आप कोई डाइटिंग नहीं कर रहे या फिर एक्सरसाइज नहीं कर रहे हैं, लेकिन आपकी अच्छी डाइट के बावजूद भी आपका वजन अपने आप कम हो रहा है, तो इसको नजरअंदाज बिल्कुल नहीं करना चाहिए, तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। 

5. गले के कैंसर की रोकथाम

किसी भी तरह की सीरियस कंडीशन आने से पहले आपको रोकथाम कर लेनी चाहिए जैसे कि पान-मसाले का सेवन न करें, शराब न पिए, और धूम्रपान बिल्कुल ना करें, क्योंकि धूम्रपान की वजह से न सिर्फ आपको कैंसर का खतरा रहता है, बल्कि आपके आसपास जो लोग रहते हैं उन्हें भी उतना ही कैंसर का खतरा रहता है। अगर आप एक हेल्थी लाइफस्टाइल जीते हैं तो आप इस समस्या में कभी भी नहीं फसेंगे। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें