दुनिया के इन 2 देशों में नहीं है एक भी पेड़, उन दोनों देशों के नाम सुनकर लोगों के उड़ जाते हैं होश

हम सब भारत के रहने वाले हैं और हमारे यहा बचपन से यही सिखाया जाता है कि पेड़ से हमें जीवन मिलता हैं क्योंकि जीने के लिए जो ऑक्सिजन चाहिए होता हैं वह हमें पेड़ो से ही मिलता हैं। हमसे हमेशा ये कहा जाता हैं कि हमें पेड़ लगाने चाहिए। आज कल तो जगह जगह पेड़ लगाओ अभियान भी चलाया जाता हैं।

Country Without Tree

बढ़ते प्रदूषण के कारण पेड़ लगाना और भी ज्यादा जरूरी हो गया हैं। कहते हैं पेड़ लगाओ, जीवन बचाओ। पेड़ हमे ऑक्सिजन देने के साथ ही हमें और भी बहुत कुछ देता हैं। फल, फूल, लकड़ी, बहुत सी दवाइयां हमे पेड़ो से ही मिलती हैं। गर्मी के मौसम में पेड़ों से हमे ठंडी हवाएं मिलती जो सुकून देती हैं। कड़कती धूप में छाव देते हैं पेड़।

बिना पेड़ो के जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल है। पर अगर हम आपसे कहे कि दुनिया में ऐसे भी देश हैं जहा एक भी पेड़ नही हैं तो? जी हां, यह बिल्कुल सच है। दुनिया में ऐसा एक नही बल्कि चार देश हैं जहां आपको एक भी पेड़ पौधे देखने को नही मिलेंगे। उन देशों के नाम हैं क़तर, ग्रीनलैंड, सन मरीनो और ओमान। इनमे से दो देशों के बारे में आज हम बताने जा रहे हैं।

क़तर

क़तर में बहुत सी ऐसी इमारतें हैं जो आसमान को छूती हैं। यह सबसे अमीर देशों में गिना जाता हैं। यह देश रेगिस्तान की व्याख्या पर पूरी तरह से खड़ा उतरता हैं क्योंकि यहा एक भी पेड़ देखने को नही मिलता। इस देश मे पूरे साल में बारिश न के बराबर होती हैं। हालांकि, यह देश खुद को किसी से कम नही मानता, इसलिए यह man made forest बना रहा है जहा 40 हज़ार से भी ज्यादा पेड़ होंगे।

ग्रीनलैंड

ग्रीनलैंड दुनिया का सबसे बड़ा आइलैंड हैं। इस देश का नाम सुनकर तो लगता हैं जैसे यह देश पूरा हर भरा, चारों ओर पेड़ पौधों से घिरा हुआ होगा। ग्रीनलैंड यानी कि हरी जगह, पर ऐसा नही है। हरा भरा तो बहुत दूर की बात हैं यहां तो आप पेड़ पौधें देखने के लिए भी तरस जाएंगे। हालांकि, यह कहा जाता हैं कि हज़ारो साल पहले यह देश सच मे हरा भरा था। पर अब इसका ज्यादातर हिस्सा बर्फ से ढका हुआ रहता हैं।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें