भारत के इस शहर में मौजूद है दुनिया का सबसे लंबा रेलवे प्लेटफॉर्म, सफर करने वाले यात्री भी हो जाते हैं परेशान

भारत का सबसे लंबा रेलवे स्टेशन गोरखपुर जंक्शन है। दुनिया के सबसे लंबे रेलवे प्लेटफॉर्म में गोरखपुर रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म का नाम प्रथम स्थान पर आता है। यह भारत के उत्तर प्रदेश में स्थित हैं। गोरखपुर शहर राप्ती नदी के किनारे पर स्थित हैं। यह नेपाल बॉर्डर के बहुत करीब हैं।

World Longest Railway Platform

गोरखपुर उत्तर प्रदेश का एक मुख्य शहर हैं। गोरखपुर जंक्शन पूर्वी उत्तर रेलवे (Northern Eastern Railways) का हेड क्वार्टर हैं। जो कि क्लास ए-1 के स्टेशन की सुविधाएं उपलब्ध कराता हैं।

6 ऑक्टोबर 2013 से यह दुनिया का सबसे लंबा रेलवे प्लेटफार्म बन गया। इसका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड ( guinness book of world record) में प्रथम स्थान पर दर्ज हुआ है। इसके प्लेटफार्म की लंबाई 1,366.33 मीटर रैंप के साथ और 1,355.40 मीटर रैंप को छोड़कर हैं। इसने पश्चिम बंगाल में स्थित खड़गपुर रेलवे स्टेशन जिसकी लंबाई 1,072 मीटर थी, उसका रिकॉर्ड तोड़ कर अपना नया रिकॉर्ड बनाया।

चलिए अब जानते हैं कि यह इतना लंबा क्यों है जबकि कोई भी ट्रेन इतनी लंबी नहीं होतीं हैं। फिर इतने लंबे प्लेटफार्म बनाने की जरूरत क्यों पड़ी? जब किसी रेलवे प्लेटफॉर्म को बनाया जाता हैं तो वह वहाँ पर मौजूद जगह पर निर्भर करता हैं।

अगर आप गूगल मैप (Google map) में देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि इस स्टेशन के एक तरफ जहां से मैन एंट्रेंस (main entrance) हैं वहाँ पर मैन रोड हैं। और इसके दूसरे तरफ रेलवे का बहुत ही बड़ा वर्कशॉप हैं। ऐसी स्थिति में यहाँ पर ज्यादा प्लेटफॉर्म को चौड़ाई में बनाना संभव नहीं है।

क्योंकि गोरखपुर में हेडक्वॉर्टर होने की वजह से ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी ( frequency) भी ज्यादा थी, इसलिए इसे इतना लंबा बनाया गया ताकि यहा पर एक ही प्लेटफॉर्म पर दो तीन गाड़ियो को एक साथ रोका जा सके। यहाँ पर एक ही लाइन पर तीन प्लेटफॉर्म हैं। 1नंबर प्लेटफॉर्म जहा पर खत्म होता हैं उसके कुछ ही दूरी पर 2 नंबर प्लेटफॉर्म शुरू हो जाता हैं और इसके कुछ दूरी के बाद तीसरा।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें