दुनिया के इस रेलवे स्टेशन का नाम सबसे छोटा है, नाम जानकर यात्रियों को नहीं होता है यकीन

हाल ही में हमने अपने एक लेख में भारत के सबसे बड़े नाम वाले रेलवे स्टेशन के बारे में बताया था। भारतीय रेलवे के अंतर्गत कुल 8000 रेलवे स्टेशन आते हैं। जब भी हम ट्रेनों में सफर करते हैं, तो किसी भी स्टेशन पर रुकते ही हमारी नजर सीधे उस स्टेशन के नाम पर जाती है। राज्यों के आधार पर रेलवे स्टेशनों के नाम भी अलग-अलग तरह के होते हैं। कुछ नाम आसानी से पढ़ लिये जाते हैं, तो कुछ कठिन लगते हैं।

Indian Railways

भारत के सबसे बड़े नाम वाले स्टेशन के बारे में भी कुछ ऐसा ही था। इसके नाम को पढ़ने में लोगों को काफी समय लग जाता है, लेकिन फिर भी वे संबोधन ऑक से नहीं कर पाते। इस स्टेशन का नाम वेंकटनरसिम्हाराजुवारिपेटा है। हालांकि, आज के इस लेख में हम बात करने वाले हैं देश के सबसे छोटे नाम वाले रेलवे स्टेशन की।

ये है भारत का सबसे छोटे नाम वाला रेलवे स्टेशन

भारत का सबसे छोटे नाम वाला रेलवे स्टेशन इब (Ib) है और कई बार लोग ये नाम देखते ही सोच में पड़ जाते हैं। इब भारतीय राज्य ओडिशा का एक रेलवे स्टेशन है। इसे भारतीय रेलवे प्रणाली पर सभी स्टेशनों का सबसे छोटा नाम होने का गौरव प्राप्त है। स्टेशन का नाम पास की इब नदी से लिया गया है।

इब रेलवे स्टेशन की शुरुआत 1891 में बंगाल नागपुर रेलवे की नागपुर-आसनसोल मुख्य लाइन के उद्घाटन के साथ हुई। यह 1900 में हावड़ा-नागपुर-मुंबई लाइन पर एक स्टेशन बन गया। स्टेशन दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे और बिलासपुर मंडल में है। 1900 में, जब बंगाल नागपुर रेलवे इब नदी पर एक पुल का निर्माण कर रहा था, तब गलती से कोयले की खोज की गई थी जो बाद में इब वैली कोलफील्ड बन गया।

इब रेलवे स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेनें

इब रेलवे स्टेशन से गुजरने वाली 92 ट्रेनें हैं। आईबी से गुजरने वाली कुछ प्रमुख ट्रेनों में पुरी – जोधपुर एसएफ एक्सप्रेस और बिलासपुर – टाटानगर पैसेंजर शामिल है। इब रेलवे स्टेशन का स्टेशन कोड ‘IB’ है। इस स्टेशन में कुल 2 अच्छी तरह से निर्मित प्लेटफार्म हैं।

वहीं बात करें भारत के सबसे लंबे नाम वाले रेलवे स्टेशन की, तो वेंकटनरसिम्हाराजुवरिपेटा रेलवे स्टेशन को वेंकट नरसिम्हा राजुवरिपेट रेलवे स्टेशन या वी एन राजुवरिपेटा रेलवे स्टेशन के नाम से भी जाना जाता है। ये भारत के तमिलनाडु की सीमा पर आंध्र प्रदेश का एक रेलवे स्टेशन है। यह दक्षिण रेलवे के रेनिगुंटा-अराकोणम खंड पर है।

error: Alert: Content selection is disabled!!
WhatsApp चैनल ज्वाइन करें