वरिष्ठ नागरिकों को मिला बड़ा तोहफा, अब इन लोगों को मिलेंगे 35 हजार रुपए, लेकिन करना होगा ये काम

सरकार सीनियर सिटीजन को समय समय पर आर्थिक सुविधाओं की सौगात देती रहती है। एक सूचना के अनुसार वित्त मंत्री ने इस बार के बजट में एक नई व्यवस्था की घोषणा की है जिसके तहत सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (SCSS) में निवेश की सीमा 15 लाख रुपए से 30 लाख रुपए कर दी गई है।

Senior Citizens

केंद्र सरकार की ओर से “वरिष्ठ नागरिक बचत योजना” चलाए जाने का मकसद सेवा निवृत्त लोगों को आर्थिक लाभ देना है जिसके तहत वरिष्ठ नागरिकों को प्रत्येक महीने ब्याज के रूप में एक निश्चित रकम मिलती है।

ब्याज दर में रिकॉर्ड बढ़ोतरी

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि SCSS पर मिलने वाली ब्याज दर इस समय रिकार्ड लेवल पर है। अतः यदि आप इस योजना का विकल्प चुनते हैं तो निश्चित रूप से फायदे में रहेंगे। SCSS के लिए जुलाई से सितंबर तक की ब्याज दर 8.2% निर्धारित की गई है। इससे पहले यह ब्याज दर 8% थी तथा 15 लाख के निवेश पर 7.6% ब्याज दर थी।

15 लाख से 30 लाख हुई निवेश राशि

वित्त मंत्री ने SCSS में निवेश सीमा को 15 लाख से 30 लाख कर देने का ऐलान किया है जिससे वरिष्ठ नागरिकों को पहले से बहुत अधिक लाभ मिल रहा है। अब हर महीने ब्याज के रूप में मिलने वाली रकम दोगुनी से भी अधिक हो गई है। पहले 15 लाख के निवेश पर 7.6% ब्याज और मैच्योरिटी पर कुल रकम 20.70 लाख मिलती थी।

निवेश की सीमा 30 लाख होने के बाद और ब्याज दर 8.2% हो जाने पर 5 वर्ष बाद 12.30 लाख रुपए ब्याज के तौर पर व कुल रकम 42.30 लाख रुपए मिलेगी। इस प्रकार वार्षिक गणना के अनुसार 2 लाख 46 हजार रुपए और प्रति माह 20,500 रुपए नियत होते हैं। वित्त मंत्री की नई घोषणा के बाद पहले मिलने वाले 9,500 की तुलना में अब 20,500 रुपए का मासिक लाभ मिलेगा।

अन्य फीचर

SCSS में हर तिमाही पर सरकार ब्याज दर क्या मूल्यांकन करती है। इस योजना में पति पत्नी एकल अथवा संयुक्त खाता खोल सकते हैं। इस योजना में आयकर की धारा 80-C के तहत 1.5 लाख रुपए तक की छूट का प्रावधान है, इस वजह से हर वरिष्ठ नागरिकों को इसका लाभ लेना चाहिए।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें