RBI ने अचानक उठाया बड़ा कदम, इस बैंक का लाइसेंस किया रद्द, अब इन लोगों को नहीं मिलेगा पैसा

आरबीआई (RBI) ने कौन सी बैंक का लाइसेंस कैंसिल कर दिया है? क्या है रद्द करने की वजह? आज हम आपको बताने जा रहे हैं इससे जुड़ी पूरी खबर दरअसल आरबीआई ने बैंकों के लिए कुछ नियम बनाए थे जुसकी पालन करना सभी बैंकों के लिए अति आवश्यक था। लेकिन एक बैंक ने आरबीआई द्वारा बनाए गए नियमों का उल्लंघन किया है। इसकी वजह से आरबीआई को यह एक्शन लेना पड़ा।

RBI

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने जिस बैंक के खिलाफ यह सख्त एक्शन लिया है उस बैंक की फाइनेंशियल स्थिति कुछ ठीक नहीं थी। केंद्रीय बैंक का कहना है कि यह बैंक सभी अकाउंट होल्डरस के पैसे वापस करने की स्थिति में नहीं थी ।जिस वजह से इस बैंक का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है।

RBI ने इस बैंक का लाइसेंस किया रद्द

आरबीआई ने जिस बैंक का लाइसेंस रद्द किया है वो बैंक महाराष्ट्र के जय प्रकाश नारायण नगरी सहकारी बैंक बसमथनगर है। इस बैंक का लाइसेंस इसी महीने से रद्द कर दिया गया है।

आरबीआई ने इस बैंक के खिलाफ कार्यवाही करते हुए ,महाराष्ट्र के कमिश्नर फॉर कोऑपरेशन एंड रजिस्ट्रार ऑफ कोऑपरेटिव सोसाइटीज को सख्त निर्देश दिए थे कि Jai Prakash Narayan Nagari Sahakari Bank Basmathnagar बैंक को जल्द से जल्द बंद कर दिया जाए लिक्विडेशन भी कर दिया जाए।

जब लिक्विडेशन प्रक्रिया खत्म होगी तभी सभी अकाउंट होल्डरस को डिपॉजिट इंश्योरेंस क्लेम के द्वारा भुगतान किया जाएगा।
आरबीआई ने इस बैंक को, 6 फरवरी 2024 को ही बंद करने के सख्त निर्देश दे दिए थे।
आरबीआई द्वारा आदेश देने के बाद से सहकारी बैंक की‌बैकिंग सेवाएं बंद कर दी गई है। अब न तो इस बैंक में डिपोजिट को स्वीकार किया जाएगा न ही कोई भुगतान किया जाएगा।

रिजर्व बैंक का ये कहना कि बैंक के रिकॉर्ड के अनुसार, लगभग 99.78 फीसदी अकाउंट होल्डर्स को पूरा पैसा वापस किया जाएगा।जिसके तहत आरबीआई , लोगों को 5 लाख रुपये डिपॉजिट वापस किए जाएंगे ।यह पूरा भुगतान डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉर्पोरेशन (DICGC) की तरफ से किया जा रहा है।

आरबीआई का कहना है कि अगर किसी भी बैंक की फाइनेंसियल स्थिति इसी बैंक की तरह रही तो उस बैंक का लाइसेंस भी पूरी तरह से रद्द कर दिया जाएगा।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें