रेलवे ने लागू किया नया नियम, अब ट्रेन में नहीं होंगे एक भी गार्ड, जानिए फिर कौन दिखाएगा हरी झंडी?

अगर आप भी ट्रेन में सफर करते हैं तो आपके लिए रेलवे से जुड़ी बातें जानना जरूरी है। ट्रेनों में हरी झंडी और टोर्च दिखाने वाले गॉर्ड अब नही होंगे। दरअसल इसके पीछे की कहानी बहुत बड़ी हैं और मांग बहुत पुरानी।

Indian Railways

रेलवे ने ताज़ा ताज़ा जो नियम जारी किए हैं उसके बारे में हम विस्तार से बताने जा रहे हैं और यह भी बताएंगे कि इन रेलवे गार्ड्स को लेकर क्या बदलाव किए गए हैं और इन्हें किस नाम से बुलाया जाएगा। इतना ही नही हम आज कई साल पुरानी उस मांग की भी चर्चा करेंगे जो रेलवे के गार्ड्स द्वारा की जा रही थी।

रेलवे के नए नियम के अनुसार अब ट्रेनों में गार्ड्स नही होंगे। दरअसल पिछले दिनों रेलवे ने कर्मचारियों की कई साल पुरानी मांग को पूरा करते हुए रेलवे गॉर्ड के पदनाम को बदल कर ट्रेन मैनेजर कर दिया है।

रेलवे बोर्ड ने इस संबंध में रेलवे के सभी जनरल मैनेजर्स को पत्र लिखकर सूचित भी कर दिया है। रेलवे ने इस बदलाव को तत्काल प्रभाव से लागू भी कर दिया है। भारतीय रेलवे ने अपने ऑफिसियल अकाउंट पर भी इस बारे में जानकारी दी थी।

साल 2004 से लगातार रेलवे के कर्मचारी इस चीज की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि उनकी झंडी और टोर्च दिखाने के साथ-साथ और भी कई जिम्मेदारियां होती हैं। यात्रियों का ध्यान रखना, उनकी जरूरतो का खयाल रखना, ट्रेन की देख-रेख और ऐसे ही कुछ काम। इसलिए वे चाहते थे कि उनका पदनाम बदल दिया जाए। उन्हें सिर्फ गार्ड के तौर पर न देखा जाए और न ही बुलाया जाए।

आपको बता दे कि गार्ड का केवल पदनाम ही बदला गया है,  उनकी जिम्मेदारियां वही रहेंगी। मतलब कि जैसा काम वे पहले करते थे वैसा ही काम करते रहेंगे। उनकी ज़िम्मेदारियों में कोई हेर-फेर नही की गई हैं।

error: Alert: Content selection is disabled!!
WhatsApp चैनल ज्वाइन करें