इन 4 कामों की वजह से माता लक्ष्मी हो जाती है नाराज, फिर पीछा पड़ जाता है दुर्भाग्य, जीवन से छिन जाता है सुख-चैन

हिंदू धर्म में कई ऐसी मान्यताएं हैं जो सदियों से चली आ रही है, जिस वजह से बहुत सारे लोग उन परंपराओं का पालन करते हैं। जो लोग उन परंपराओं का पालन नहीं करते उनके घर में दरिद्रता आती है। हिंदू धर्म में 18 महापुराणों का उल्लेख है। इन अठारह महापुराणों में से एक गरुड़ पुराण भी शामिल है। गरुड़ पुराण में मृत्यु, पुनर्जन्म, स्वर्ग, नर्क, धर्म और कई नियमों का उल्लेख विस्तार से किया गया है।

Vastu Tips

गरुड़ पुराण में जो बातें बताई गई है उसका अनुसरण करना बहुत आवश्यक है। जो व्यक्ति उन नियमों का अनुसरण करता है उसका जीवन हमेशा सुखमय बीतता है। लेकिन यदि आप उन नीति नियमों का पालन नहीं करते हैं तो आपको इसके विरुद्ध परिणाम मिलते है। आपको अपने जीवन में कई संकटों का सामना करना पड़ सकता है।

गरुड़ पुराण में दैनिक जीवन से जुड़ी कई बातों के बारे में बताया गया है। इतना ही नहीं उन कामों को करने का उचित समय भी बताया गया है। अगर आप सही समय पर इन कामों को नहीं करेंगे तो आपको इसका विपरीत परिणाम मिलेगा। यह आपके दुर्भाग्य का कारण भी बन सकती हैं। तो चलिए जानते हैं क्या है यह नियम।

गलत समय में भूलकर भी न करें ये 4 काम

1. गुरुवार भगवान विष्णु का दिन कहा जाता है। इस दिन को भाग्य का कारण कहा जाता है। मान्यताओं के अनुसार गुरुवार के दिन भूलकर भी बाल नहीं कटवाना चाहिए। सेविंग नहीं करनी चाहिए। घर में पोछा भी नहीं लगाना चाहिए। इतना ही नहीं वैवाहिक स्त्रियों को भूलकर भी अपने बाल नहीं धोने चाहिए। गुरुवार के दिन मांसाहार करने से बचें। अगर आप गुरुवार के दिन इन कामों को करते हैं तो दुर्भाग्य आपका पीछा करते हुए आपकी जिंदगी में प्रवेश कर जाएगा।

2. नाखून काटने के दिन को भी तय किया गया है। मगर कुछ लोग इन बातों को नहीं मानते हैं और वह कभी भी और किसी समय नाखून काट लेते हैं। शास्त्रों की माने तो रात को नाखून काटना अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से मां लक्ष्मी आपसे नाराज हो जाती है, फिर आपके घर में कभी भी लक्ष्मी का वास नहीं होता है। इसके अलावा गुरुवार, शनिवार और मंगलवार के दिन भूलकर भी नाखून नहीं काटना चाहिए। ऐसा करना दुर्भाग्य को निमंत्रण देना है।

3. तुलसी के पौधे में जल अर्पित करना और उसकी पूजा करना बहुत शुभ माना जाता है। मगर आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि शाम के समय आप तुलसी में जल चढ़ाते हैं या उसके पत्ते को तोड़ते हैं तो इससे आपको लाभ के बदले हानि होती है। यह आपके दुर्भाग्य का कारण बन सकती है। इस वजह से शाम के समय तुलसी के पास केवल दीपक जलाएं।

4. हिंदू धर्म में झाड़ू का संबंध मां लक्ष्मी से किया जाता है। झाड़ू से घर की सफाई करने से और घर को साफ सुथरा रखने से मां लक्ष्मी का घर में वास होता है। लेकिन इस बात को अवश्य याद रखें कि शाम के समय झाड़ू लगाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। घर में दरिद्रता फैल जाती है, इस वजह से भूलकर भी सूर्यास्त के बाद घर की साफ सफाई न करें।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें