इस भारतीय क्रिकेटर ने मजहब की दीवार तोड़कर दोस्त की बहन से की शादी, किसी फिल्मी से कम नहीं है उनकी लव स्टोरी

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी अजीत अगरकर आज अपना 45वां जन्मदिन मना रहे हैं। अजीत अगरकर खेल की दुनिया से ज्यादा अपनी निजी और खास कर लव लाइफ को लेकर सुर्खियों में रहे हैं। क्रिकेट के मैदान पर धमाल मचाने वाले अगरकर निजी जिंदगी की वजह से कई बार चर्चा में आए, जब उन्होंने एक मुस्लिम लड़की से शादी की। जी हां, अगरकर का प्यार इतना गहरा और सच्चा था कि सदोनों ने ने धर्म की दीवार तोड़ कर एख दूसरे से शादी की। उनकी पत्नी का नाम फातिमा गडियाली है।

ajit agarkar indian cricketer

फातिमा से 1999 में अजीत अगरकर पहली बार मिले थे। फातिमा अजीत अगरकर के दोस्त की बहन थीं, जिस वजह से दोनों एक दूसरे से मिल पाये। दरअसल, उनके दोस्त मैच देखने स्टेडियम जाते थे और कभी-कभी उनकी बहन फातिमा को भी साथ ले जाते थे। अगरकर और फातिमा के बीच दोस्ती हो गयी, जो धीरे-धीरे प्यार में बदल तब्दील हो गयी।

शादी में आई कई रुकावटें

अजीत अगरकर और फातिमा अब एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे और शादी करना चाहते थे लेकिन एक हिंदू लड़के और और मुस्लिम लड़की के लिए यह इतना आसान नहीं था। दोनों के अलग-अलग धर्म थे। दूसरों को छोड़कर अगरकर और फातिमा के घरवाले भी इस रिश्ते से खुश नहीं थे, लेकिन इसका अगरकर और फातिमा के प्यार पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ा और दोनों ने शादी कर ली।

ajit agarkar wife

अजीत आगरकर और फातिमा ने 9 फरवरी 2002 को शादी कर ली। इसके बाद अगरकर ने अपना क्रिकेट करियर जारी रखा और प्रसिद्धि भी हासिल की। अगरकर और फातिमा का एक बेटा है। अगरकर अपने परिवार के साथ मुंबई में रहते हैं।

अजीत अगरकर का क्रिकेट करियर

बात करें करियर की तो, अजीत अगरकर ने भारत के लिए 26 टेस्ट मैचों में 58 विकेट लिए हैं। उनके नाम 191 वनडे में 288 विकेट हैं, जबकि आगरकर ने 4 अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच भी खेले। दरअसल 2007 में जब टी-20 क्रिकेट का चलन शुरू हुआ, यह आगरकर के क्रिकेट करियर का आखिरी दौर था। अगरकर ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच 2007 में खेला था।

काफी शिक्षित और सफल हैं अगरकर की पत्नी

अजीत आगरकर की पत्नी, फातिमा गड़ियाली एक शिक्षाविद और बच्चों के लिए खेल शिक्षा पहल केए एडुएसोसिएट्स की सह-संस्थापक हैं। वह सिडेनहैम कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स, मुंबई की पूर्व छात्रा हैं, जहां फातिमा यूनिवर्सिटी टॉपर भी थीं। ईसीसीई और बी.एड में डिग्री के अलावा, उन्होंने बर्मिंघम विश्वविद्यालय से एमबीए की डिग्री भी प्राप्त की है। जून 2020 में, एजुकेशन वर्ल्ड मैगज़ीन ने फ़ातिमा को देश में शिक्षा को पुनर्जीवित करने वाले भारत के शीर्ष 50 शिक्षकों में से एक घोषित किया।

2000 में, अजीत आगरकर की पत्नी, फातिमा मुंबई में एक निजी फर्म के लिए काम करने वाली एक प्रबंधन सलाहकार थीं। यहीं पर उनकी मुलाकात आगरकर से हुई थी। मजहर घड़ियाली, उनके भाई, ने उनकी मुलाकात में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। मजहर 90 के दशक की शुरुआत में घरेलू स्तर पर खेल खेला करते थे।

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!