भारत का एकमात्र रेलवे स्टेशन जहां से ट्रेन निकलते ही बिजली हो जाती है गुल, फिर कांपने लगते हैं यात्री

भारत में हर दिन लाखों लोग ट्रेन से यात्रा करते हैं। चाहे दैनिक आवागमन हो या लंबी दूरी की यात्रा, ट्रेन परिवहन का पसंदीदा साधन है। भारतीय रेलवे यात्रियों की सुविधा सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त प्रयास करता है और बैठने, भोजन और शौचालय जैसी सुविधाएं प्रदान करता है।

Railway Station

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कुछ जगहों पर यात्रा के दौरान लोकल ट्रेनों में बिजली कटौती क्यों होती है? इस लेख में हम इस दिलचस्प घटना के बारे में विस्तार से जानेंगे और इसके पीछे के कारणों को उजागर करेंगे।

तमिलनाडु का अनोखा मामला

ट्रेनों में बिजली कटौती की घटना विशेष रूप से तमिलनाडु में प्रमुख है। विशेष रूप से, यह चेन्नई में तांबरम रेलवे स्टेशन के पास होता है। जैसे ही ट्रेनें इस क्षेत्र के पास पहुंचती हैं, लोकल ट्रेनों की सभी लाइटें रहस्यमय तरीके से बंद हो जाती हैं। लेकिन इस घटना का कारण क्या है? आइए आगे जानें।

रेलवे सूत्रों से जानकारी

रेलवे सूत्रों के मुताबिक, यह समस्या तांबरम के पास रेलवे लाइन के एक छोटे से हिस्से में विद्युत प्रवाह नहीं मिलने के कारण उत्पन्न हुई है। नतीजतन, इस सेक्शन से गुजरने वाली लोकल ट्रेनों की सभी लाइटें अपने आप बंद हो जाती हैं। इस अजीबोगरीब स्थिति ने भारतीय रेलवे को इस क्षेत्र को “प्राकृतिक क्षेत्र” घोषित करने के लिए प्रेरित किया है।

लोकल ट्रेनों के साथ ऐसा क्यों होता है?

आप सोच रहे होंगे कि सुपरफास्ट या एक्सप्रेस ट्रेनों की तुलना में लोकल ट्रेनों में यह घटना अधिक आम क्यों है। इसका उत्तर इस बात में निहित है कि इन ट्रेनों को विद्युत ऊर्जा की आपूर्ति कैसे की जाती है।

लोकल ट्रेनों को विद्युत आपूर्ति सीधे ड्राइवर के केबिन से प्राप्त होती है। ड्राइवर के केबिन में बिजली की व्यवस्था होती है और वहीं से पूरी ट्रेन में बिजली वितरित की जाती है। यह सेटअप स्थानीय ट्रेनों को तब बिजली व्यवधान के प्रति संवेदनशील बनाता है जब वे तांबरम क्षेत्र जैसे क्षेत्रों से गुजरती हैं, जहां विद्युत कनेक्शन खो जाता है।

सुपरफास्ट और एक्सप्रेस ट्रेनें कैसे भिन्न हैं?

इसके विपरीत, सुपरफास्ट और एक्सप्रेस ट्रेनों में बिजली आपूर्ति की अलग व्यवस्था होती है। इन ट्रेनों के इंजन डिब्बों में समर्पित बिजली वितरण प्रणालियाँ हैं, जो अधिक सुसंगत बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करती हैं। परिणामस्वरूप, वे उन विद्युत व्यवधानों से कम प्रभावित होते हैं जिनका सामना लोकल ट्रेनें अक्सर करती रहती हैं।

निष्कर्ष

भारतीय ट्रेनों, विशेषकर तंबरम जैसे क्षेत्रों से गुजरने वाली स्थानीय ट्रेनों में बिजली कटौती का रहस्य दिलचस्प है। लोकल ट्रेनों की अनूठी बिजली वितरण प्रणाली, जिसकी सीधी आपूर्ति ड्राइवर के केबिन से होती है, उन्हें इस तरह के रुकावटों के प्रति संवेदनशील बनाती है। इन कारकों को समझने से इस बात पर प्रकाश पड़ता है कि सुपरफास्ट और एक्सप्रेस समकक्षों की तुलना में लोकल ट्रेनों में यह घटना अधिक आम क्यों है।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें