Indian Railway: अब भारत में चलेगी डबल डेकर ट्रेन, नीचे रखा जाएगा सामान और ऊपर बैठेंगे यात्री

Indian Railway: भारतीय रेलवे देश में एक नई डबल-डेकर ट्रेन सेवा शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार है, जो यात्रियों को आरामदायक और सुविधाजनक यात्रा अनुभव प्रदान करेगी। भारतीय रेलवे ने एक नई प्रकार की डबल डेकर ट्रेन का परिचालन करने का प्लान बनाया है। इसमें यात्रियों को ऊपरी स्तर पर सीट मिलेगी, जबकि निचले स्तर पर माल का समावेश होगा।

Indian Railway

इससे माल की परिवहन की सुविधा मिलने के साथ-साथ, यात्रियों को भी सुविधाजनक सफर का मौका मिलेगा। इस प्रकार की ट्रेन को ‘2 in 1’ ट्रेन कहा जा सकता है, क्योंकि इसमें माल और मनुष्यों का संतुलन होगा। इसका निर्माण पंजाब के कपूरथला में स्थित रेल कोच फैक्टरी (ICF) में हो रहा है।

रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला के एक अधिकारी के मुताबिक, रेलवे बोर्ड को तीन डिजाइन विकल्प सौंपे गए थे, जिनमें से एक डिजाइन को मंजूरी दे दी गई है। इस डिजाइन के कोच बनाने की अनुमानित लागत 2.70 करोड़ से 3 करोड़ के बीच है। इस ट्रेन का अधिकारियों का कहना है कि पूरी तरह से वातानूकुलित होगी।

यह ट्रेन अलग-अलग तरह के सामान ढो सकती है। बता दें कि कोरोना महामारी के दौरान ऐसी ट्रेनों की जरूरत महसूस की गई थी। भारत में ऐसे ट्रेन का कॉन्सेप्ट अभी तक नहीं है। यह नई शुरुआत होगी।

इसके अतिरिक्त, इन ट्रेनों को नियमित आधार पर एक निर्दिष्ट मार्ग का पालन करते हुए कार्गो परिवहन उद्देश्यों के लिए भी लागू किया जाएगा। इसके अलावा, इन ट्रेनों का उपयोग करके विभिन्न प्रकार के सामानों का परिवहन किया जाएगा। भारतीय रेलवे की इस पहल से पार्सल को तुरंत पहुंचाने में अत्यधिक सुविधा और समय की बचत होने की उम्मीद है।

अब तक, यह एक लगातार मुद्दा रहा है कि यात्री अपने सामान से पहले अपने गंतव्य पर पहुंच जाते हैं। नतीजतन, उनके माल की समय पर डिलीवरी से समझौता किया जाता है, जिससे अनावश्यक समय की बर्बादी होती है और उन पर महत्वपूर्ण वित्तीय बोझ पड़ता है।

कार्गो परिवहन भी बनेगा सुविधाजन

संक्षेप में कहें तो, भारतीय रेलवे द्वारा नई डबल-डेकर ट्रेन सेवा शुरू करने की यह पहल यात्रियों के लिए आरामदायक और सुविधाजनक यात्रा का मौका प्रदान करने के साथ-साथ कार्गो परिवहन को भी सुविधाजनक बनाने का प्रयास है। इसके माध्यम से माल और मनुष्यों के संतुलन को बनाए रखने का ध्यान रखा गया है।

यह नई पहल कार्गो और पार्सल के वित्तीय बोझ को कम करने, समय की बचत करने और सुविधा को बढ़ाने का उदाहरण हो सकती है। इस पहल के माध्यम से यात्रियों को अपने गंतव्य पर समय पर पहुंचाने में मदद मिलेगी और उनका सामान भी सुरक्षित रहेगा। भारतीय रेलवे के इस प्रयास से देश के रेल यातायात के अधिक विकास की उम्मीद है।

सार्वजनिक सुविधाओं में सुधार के लिए भारतीय रेलवे की यह पहल बड़ी उपलब्धि है। एक नई प्रकार की ‘2 in 1’ ट्रेन जिसमें माल और यात्रियों का संतुलन होगा, एक साथ यात्रा और वस्तुओं के परिवहन के लिए सुविधा प्रदान करेगी। कोरोना महामारी के दौरान, ऐसी ट्रेनों की मांग जो वस्तुओं को तुरंत पहुंचा सके, बढ़ी थी, और भारतीय रेलवे ने इस जरूरत को ध्यान में रखते हुए नई शुरुआत की है।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें