IND vs WI: सूर्यकुमार नहीं है असली मैच विनर, पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने इस गेंदबाज को बताया मैच का हीरो

सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) वर्तमान में टी20 क्रिकेट के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज है। इसी वजह से वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी20 मैच में उन्होंने बेहतरीन अर्धशतक लगाया है। उस दौरान सूर्यकुमार 83 रनों की तूफानी पारी खेली है जिस वजह से वह मुकाबला टीम इंडिया 7 विकेट से जीतने में कामयाब रही।

Suryakumar Yadav

वेस्टइंडीज के खिलाफ उस मुकाबले में सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) का बल्ला नहीं चलता तो टीम इंडिया शायद ही वह मैच जीत पाती। इसी के साथ यह टी20 श्रृंखला भी भारत के हाथ से निकल जाता। इस वजह से सूर्यकुमार की वह पारी भारत के लिए बहुत ज्यादा अहम था, लेकिन एक पूर्व भारतीय दिग्गज क्रिकेटर ने सूर्यकुमार यादव की जगह किसी दूसरे खिलाड़ी को उस मैच का हीरो बताया है। इस वजह से सूर्या के फैंस नाराज है।

इस दिग्गज ने सूर्या नहीं बल्कि इसे बताया मैच का हीरो

वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछले मुकाबले में टीम इंडिया की तरफ से कई खिलाड़ियों ने अपना-अपना योगदान दिया, जिसमे सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) का नाम सबसे ऊपर होना चाहिए। लेकिन टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर संजय मांजरेकर की सोच फैंस से बिल्कुल अलग है, क्योंकि वो सूर्या को उस मैच का हीरो नहीं मानते हैं।

संजय मांजरेकर सोशल मीडिया पर हमेशा एक्टिव रहते हैं, इसी वजह से उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट के माध्यम से एक ट्वीट करते हुए लिखा कि “सूर्यकुमार यादव का प्रदर्शन फिर से शानदार था, लेकिन मेरे लिए असली मैच विजेता कुलदीप था। पूरन सहित ऊपरी क्रम के तीन विकेट लेकर वेस्टइंडीज को 159 रन पर रोक दिया। शाबाश कुलदीप।”

सूर्यकुमार और कुलदीप का प्रदर्शन

वेस्टइंडीज के विरुद्ध खेले गए तीसरे टी20 मैच में कुलदीप यादव 4 ओवर की गेंदबाजी करते हुए 28 रन देकर तीन महत्वपूर्ण विकेट हासिल किया। उस दौरान कुलदीप ने वेस्टइंडीज के तूफानी विकेटकीपर बल्लेबाज निकोलस पूरन को भी अपनी जाल में फंसाया। इसी वजह से वेस्टइंडीज 20 ओवर में 5 विकेट खोकर सिर्फ 159 रन बना पाई।

वहीं, सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) एक बार फिर से सूर्य की तरह चमके। उस मुकाबले में सूर्या को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया। फिर उन्होंने मात्र 44 गेंदों पर 83 रन ठोक दिए। उस विस्फोटक पारी के दौरान सूर्यकुमार के बल्ले से 10 चौके और चार गगनचुंबी भी निकले हैं। इसी वजह से टीम इंडिया वह मुकाबला सिर्फ 17.5 ओवर में जीत दर्ज कर लिया।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें