घर पर फालतू बैठने से अच्छा शुरू करें ये जबरदस्त बिजनेस, नहीं लगेगा ज्यादा पैसा, फिर हर साल होगी 9 लाख की कमाई

भारत में बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हें नौकरी से ज्यादा अपना खुद का बिज़नेस, खुद का कारोबार करना पसंद होता है। और भला हो भी क्यों न, आखिर खुद के व्यवसाय में जो लाभ है, जो संतुष्टि है, वह किसी नौकरी में कहा। जरूरत है तो बस एक ऐसे बिजनेस आईडिया की जिसे आप आसानी से शुरू कर सकें।

Disposable Glass Making Business

हमारे देश में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो हमेशा घर पर बैठे रहते हैं, इस वजह से उनका समय बर्बाद होता है। लेकिन हम चाहते हैं कि हर व्यक्ति कोई न कोई काम करें ताकि उन्हें जीवन में कभी पैसों की कमी न हो। इसी वजह से आज हम एक ऐसे बिजनेस के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे कम पूंजी में शुरू किया जा सकता है तथा उससे हर वर्ष 9 लाख रुपए तक तक इनकम की जा सकती है।

डिस्पोजेबल गिलास बनाने का बिजनेस

अगर आप भी कम खर्च में अपना खुद का कोई  कारोबार शुरू करने की सोच रहे हैं, तो आज हम आपको एक शानदार बिजनेस के बारे में बताएंगे। इसे आप कम खर्च में स्टार्ट कर सकते हैं और इसमे बहुत ज्यादा कुछ सोचने की भी जरूरत नहीं है। हम बात कर रहे हैं डिस्पोजेबल गिलास बनाने के बिजनेस की।

तेजी से बढ़ रही डिमांड

चूंकि प्लास्टिक हमारे आस पास के पर्यावरण को दूषित करता है और इसका प्रकृति पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है,  इस कारण सरकार ने इसकी बिक्री पर पाबंधी लगा दी थी। इसलिए आज कल प्लास्टिक के बजाए पेपर से बने गिलास और प्लेटो का इस्तेमाल किया जाता है।

जैसा कि आप जानते हैं कि पेपर गिलास का ज्यादातर इस्तेमाल चाय, जूस और सूप की दुकानों पर, पार्टी फंक्शन में, आइस क्रीम पार्लर में, फ़ास्ट फ़ूड कॉर्नर्स में, रेलवेज में और भी कई जगहों पर काफी मात्रा में किया जाता है। इससे आपको पता चलता है कि इसकी डिमांड मार्केट में कितनी ज्यादा है।

इन जरूरतों को करना होगा पूरा

तो ये तो तय है कि आपका यह पेपर गिलास का बिजनेस बढ़िया चलेगा। अब आपको सबसे पहले यह पता करना होगा कि आपके एरिया में किस तरह के और किस साइज के पेपर गिलास ज्यादा चलते हैं। अब इसके बाद आपको अपने बिजनेस के लिए ट्रेड लाइसेंस की भी जरूरत पड़ेगी।

इसके बाद आपको एक अच्छी खासी जगह की जरूरत होगी जहा पर आप अपना बिजनेस करेंगे। इसके अलावा आपको कुछ रॉ मटेरियल खरीदने होंगे जैसे प्रिंटेड पेपर, बॉटम रील, पेपर रील, पैकेजिंग मटेरियल, इत्यादि। इसे बनाने के लिए आप फुल्ली ऑटोमैटिक या फिर सेमी ऑटोमैटिक, कोई भी मशीन खरीद सकते हैं।

मशीन की कीमत उसकी साइज और प्रकार पर निर्भर करती है। यदि आप छोटी या फिर सेमी ऑटो मशीन लेंगे तो 1 से 2 लाख रुपए तक में मशीन आ जायेगी। लेकिन अगर आप फूल ऑटो मशीन लेते हैं तो 6 से 7 लाख रुपए लगेंगे। आप आसानी से 7 से 9 लाख रुपए के अंदर पेपर मेकिंग प्रोजेक्ट शुरू कर सकते हैं।

error: Alert: Content selection is disabled!!
WhatsApp चैनल ज्वाइन करें