टीम में नहीं मिला मौका तो पहुंचा नामीबिया, अब इंग्लैंड में जाकर मचाई तबाही, सिर्फ 7 गेंदों में ठोक दिए 36 रन

दुनिया में बहुत सारे ऐसे खिलाड़ियों को देखा गया है जिन्होंने क्रिकेट की वजह से अपना देश छोड़ दिया है, क्योंकि उन्होंने देश से ज्यादा अपने करियर पर ध्यान देना बेहतर समझा। वैसे भी आज के समय में हर किसी को खेलने का मिलना आसान काम नहीं है, लेकिन कुछ खिलाड़ियों के पास बेहतर काबिलियत होने के बाद भी उन्हें मौका नहीं दिया जाता है।

David Wiese

ऐसा ही हाल दक्षिण अफ्रीका के एक क्रिकेटर के साथ हुआ, जिसके पास गेंद और बल्ले दोनों से बेहतरीन प्रदर्शन करने की काबिलियत थी। लेकिन उन्हें ज्यादा मौके नहीं दिए गए, इस वजह से बाद में उन्हें अपना देश छोड़ा पड़ा। उसके बाद वो नामीबिया के लिए क्रिकेट खेलने लगे, लेकिन अब उन्होंने इंग्लैंड में चल रहे द हंड्रेड क्रिकेट लीग में धमाकेदार प्रदर्शन किया है।

इस बल्लेबाज ने 7 गेंदों में बनाए 36 रन

हम नामीबिया के ऑलराउंडर डेविड वीजे (David Wiese) के बारे में बात कर रहे हैं जो इन दिनों इंग्लैंड में चल रहे द हंड्रेड टूर्नामेंट में Northern Superchargers की टीम के लिए खेल रहे हैं। इस लीग के 12वें मुकाबले में Trent Rockets के खिलाफ उन्होंने तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की है।

उस मुकाबले में डेविड वीजे (David Wiese) को सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया, फिर उन्होंने मात्र 25 गेंदों पर 50 रनों की तूफानी पारी खेली। उस विस्फोटक इनिंग के दौरान वीजे के बल्ले से 3 चौके और 4 गगनचुंबी छक्के देखने को मिले हैं। इस तरह उन्होंने 50 में से 36 रन सिर्फ 7 गेंदों में चौके और छक्के की मदद से बना दिया।

क्रिकेट के लिए छोड़ा देश

39 वर्षीय डेविड वीजे (David Wiese) का जन्म 18 मई 1985 को दक्षिण अफ्रीका के Roodepoort में हुआ था। वीजे साउथ अफ्रीका के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था, लेकिन उन्हें अधिक मौके नहीं दिए गए। इस वजह से बाद में वो दक्षिण अफ्रीका छोड़कर नामीबिया पहुंच गए, फिर उसी के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने लगे। इसके अलावा डेविड वीजे को दुनिया के अलग-अलग लीगों में भी खेलते देखा जाता है।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें