Chanakya Niti: चाणक्य के अनुसार महिला की ये चीज होती है सबसे ज्यादा ताकतवर, उसके सामने पुरुष भी टेक देते हैं घुटने

आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में दैनिक जीवन से जुड़ी कई बातों का उल्लेख किया है। चाणक्य ने जिन नियमों के बारे में बताया है यदि हम उसका पालन करते हैं तो हम अपना जीवन सुखमय कर सकते हैं। आपको बता दें कि चाणक्य ने अपनी नीति में स्त्री की सबसे बड़ी ताकत का उल्लेख किया है।

Chanakya Niti

चाणक्य का कहना है कि उस ताकत की वजह से महिलाएं कुछ भी करवा सकती हैं। इतना ही नहीं चाणक्य ने अपनी नीति में राजा और ब्राह्मण की ताकत के बारे में भी बताया है। इस आर्टिकल में हम आपको स्त्री, ब्राह्मण और राजा की सबसे बड़ी ताकत के बारे में बताने जा रहे हैं। तो चलिए जानते हैं क्या है स्त्री, ब्राह्मण और राजा की सबसे बड़ी ताकत क्या है।

स्त्री की ताकत

चाणक्य नीति के अनुसार महिलाओं की सबसे बड़ी ताकत उनकी मधुर आवाज है। चाणक्य महिलाओं की सुंदरता को भी उनकी ताकत बताते हैं मगर वाणी की मधुरता शरीर की सुंदरता को भी पीछे छोड़ देती है। अपनी मधुर वाणी से स्त्री किसी को भी अपने वश में कर सकती है। मधुर वाणी बोलने वाली स्त्री का हर जगह सम्मान होता है।

ब्राह्मण की सबसे बड़ी ताकत

चाणक्य के अनुसार ब्राह्मण की सबसे बड़ी ताकत उसकी बुद्धि होती है। अपने ज्ञान से वह समाज में सम्मान और प्रतिष्ठा प्राप्त करता है। चाणक्य का कहना है कि ज्ञान ब्राह्मणों की ही नहीं बल्कि सभी लोगों की सबसे बड़ी शक्ति है। अपने ज्ञान का इस्तमाल करके ही हम जीवन की बाधाओं से मुक्ति पा सकते हैं।

राजा की सबसे बड़ी ताकत

चाणक्य के अनुसार किसी भी राजा की सबसे बड़ी ताकत उसकी भुजा शक्ति है। राजा के कई सलाहकार होते हैं मगर राजा शक्तिशाली न हो तो वह ज्यादा दिन तक राजगद्दी पर टिक नहीं पाता है। अगर राजा शक्तिशाली होगा तो उसका राज्य खुशहाल रहेगा। एक शासक शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होगा तो उसका प्रबंधन और शासन अपने आप सुचारू ढंग से चलने लगेगा।

error: Alert: Content selection is disabled!!
WhatsApp चैनल ज्वाइन करें