50 साल की उम्र के बाद भी हड्डियां रहेंगी मजबूत, लेकिन रोजाना इन फूड्स का करें सेवन, आस-पास नहीं भटकेगी कोई बीमारी

एक उम्र के बाद इंसान की हड्डियां कमजोर होने लगती है। ये समस्या खास कर महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलती है। ये तो ससभी को पता है कि मजबूत हड्डियों के निर्माण के लिये कैल्शियम और विटामिन डी दो प्रमुख पोषक तत्व हैं। कैल्शियम हड्डियों और दांतों की संरचना को बनाये रखता है, जबकि विटामिन डी कैल्शियम अवशोषण और हड्डियों के विकास में सुधार करता है।

Strong Bone

बुढ़ापे में भी मजबूत हड्डियों के लिए कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, विटामिन, बीटा-कैरोटीन और प्रोटीन जैसे कुछ प्रमुख पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। ऐसे कई खाद्य पदार्थ हैं, जिन्हें अगर कोई भी अपने आहार में शामिल कर लें, तो उनकी हड्डियों को कमजोर होने से रोका जा सकता है। साथ ही जोड़ों के दर्द, सूजन, गठिया और हड्डी से संबंधित अन्य स्वास्थ्य समस्याओं की संभावना भी कम हो जायेगी। आइये जानते हैं इन खाद्य पदार्थों के बारे में…..

1. दही

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिये सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों की लिस्ट में सबसे पहला नाम दही का है। दही में कैल्शियम, विटामिन डी, ए और बी12, पोटैशियम, मैग्नीशियम, राइबोफ्लेविन, फॉस्फोरस और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है। 30 की उम्र के बाद भी हड्डियों को मजबूत बनाये रखने के लिये रोजाना एक कटोरी दही का सेवन जरूर करें।

2. दूध

दूध में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है, जिस वजह से ये हड्डियों के लिए काफी फायदेमंद है। अगर आप भी हड्डियों को 50 साल की उम्र के बाद भी मजबूत रखना चाहते है तो दूध का रोजाना सेवन अवश्य करें, ताकि आप बुढ़ापे में भी स्वस्थ रहेंगे।

3. पनीर

हड्डियों के लिए सबसे अच्छे और सबसे आवश्यक खाद्य पदार्थों में से एक पनीर भी है। पनीर में विटामिन डी और कैल्शिमय दोनों होते हैं, जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करते हैं।

4. अंडे

यह हड्डियों के लिए सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों में से एक है। हालांकि, अंडे में आपके दैनिक विटामिन डी का केवल 6% ही होता है। अंडे की जर्दी में विटामिन डी होता है।

6. सैल्मन

सैल्मन में भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है जो हड्डियों के साथ साथ दिल के स्वास्थ्य के लिये भी उपकारी है। इस वजह से हड्डी तथा दिल की समस्या को दूर करने के लिए इसका सेवन करना चाहिए।

7. पालक

पालक में भी कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है। साथ ही, इसमें मौजूद विटामिन K हड्डी के मैट्रिक्स में कैल्शियम को बनाए रखने में मदद करती है। कैल्शियम के साथ-साथ पालक में फाइबर, आयरन, पोटैशियम, मैग्नीशियम और विटामिन ए और सी भी अच्छी मात्रा में होते हैं। पालक के साथ गोभी, केला, ब्रोकोली और फूलगोभी भी हड्डियों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए सही माना जाता है।

error: Alert: Content selection is disabled!!
WhatsApp चैनल ज्वाइन करें