शिखर धवन के अलावे ये 3 खिलाड़ी भी है बदकिस्मत, विश्व कप के साथ-साथ एशियन गेम्स से भी हुआ बाहर

यह साल भारतीय टीम के लिए अहम होगा। रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम ने एशिया कप 2023 का खिताब जीता। अब उन्हें अपने देश में एशियाई खेलों के साथ-साथ वनडे विश्व कप 2023 में भी हिस्सा लेना होगा। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दोनों राउंड के लिए अपनी टीमों की घोषणा कर दी है।

shikhar dhawan with team india

यहां अप्रत्याशित बात यह है कि जिन खिलाड़ियों को कुछ महीने पहले विश्व कप का उम्मीदवार माना जा रहा था, उनमें से चार ऐसे उत्कृष्ट खिलाड़ी हैं जिन्हें विश्व कप तो क्या, एशियाई खेलों के लिए भी टीम के लिए नहीं चुना गया है।

शिखर धवन को नहीं मिला मौका

इसका सबसे हैरान करने वाला पहलू ये है कि 37 साल के दमदार ओपनर शिखर धवन को भी दोनों बड़े इवेंट के लिए टीम से बाहर रखा गया। उम्मीद थी कि चीन में आयोजित होने वाले एशियाई खेलों के लिए धवन को भारतीय टीम का कप्तान बनाया जाएगा। लेकिन चयनकर्ताओं को कुछ ओर ही मंजूर था। उन्होंने धवन को हटाकर ऋतुराज गायकवाड़ को कप्तान नियुक्त किया।

इसके बाद ऐसा लग रहा था कि धवन को विश्व कप टीम में बरकरार रखा जाएगा। लेकिन यहां भी उनकी किस्मत खराब रही एशियन गेम्स से बाहर होने पर धवन हैरान हुए थे। इसका खुलासा उन्होंने खुद ही किया था। धवन ने कहा, ‘जब एशियाई खेलों के लिए भारतीय टीम के लिए मेरा नाम नहीं चुना गया तो मैं थोड़ा चौंक गया।’ लेकिन फिर मुझे एहसास हुआ कि उसने कुछ और ही सोचा होगा. आपको इसे समझना और स्वीकार करना होगा। कप्तान बनाए जाने पर रुतुराज बहुत खुश हैं। सभी खिलाड़ी युवा हैं। मुझे विश्वास है कि वे सफल होंगे।

युजवेंद्र चहल को भी नहीं मिला मौका

भारत के स्टार लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल भी ऐसे ही बदकिस्मत रहे। चहल एशिया कप से पहले वेस्टइंडीज की वनडे सीरीज में खेले थे। तब लगा था कि उनका चयन विश्व कप के लिए हो सकता है, लेकिन विश्व कप भूल जाओ। उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला के लिए भी नहीं चुना गया था। दूसरी ओर, उन्हें एशियाई खेलों में भाग लेने से भी रोक दिया गया है।

संजू सैमसन खुद को स्थापित नहीं कर पाए

भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन को टीम में कई मौके मिले हैं, लेकिन उन्होंने कोई भी ऐसी शानदार पारी नहीं खेली है जिसे फैंस सालों तक याद रखें। वहीं, विकेटकीपर ईशान किशन ने बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच में दोहरा शतक ठोक दिया।

इसी बीच जब केएल राहुल चोटिल हुए तो संजू की उम्मीदें बढ़ गई। लेकिन राहुल उबर गए और एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ 111 रन की शानदार शतकीय पारी खेली। ऐसे में संजू विश्व कप से बाहर होते नजर आ रहे हैं। उन्हें एशियाई खेलों में भाग लेने का मौका भी नहीं मिला।

भुवनेश्वर कुमार अचानक टीम से हुए गायब

भारतीय टीम के स्टार तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार पहले भी अहम मैच विनर रहे हैं। 121 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में उनके नाम 141 विकेट हैं। 2021 के अंत तक, भुवी भारत के लिए लगभग हर वनडे में दिखाई दिए। दूसरी ओर, उन्होंने 2022 के अंत तक टी20 मैच खेले।

इसी बीच उनकी फॉर्म खराब हो गई और उन्हें विकेट लेने के लिए संघर्ष करना शुरू कर दिया। इस बीच, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, जसप्रीत बुमराह और प्रसिद्ध कृष्णा ने खुद को भारतीय टीम के सदस्य के रूप में स्थापित करना शुरू कर दिया। ऐसे में बीसीसीआई चयन समिति ने खराब फॉर्म के कारण भुवनेश्वर को रिजेक्ट कर दिया। इसी कारण वह विश्व कप और एशियाई खेलों में भाग नहीं ले सके।

21 जनवरी 2022 को, भुवनेश्वर कुमार ने अपना अंतिम वनडे मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला। आखिरी टी20 मैच 22 नवंबर 2022 को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला गया थास। भुवी का आखिरी टेस्ट मैच 2018 में जोहान्सबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ था। उन्होंने इस टेस्ट मैच में 63 रन बनाए और चार विकेट लिए।

2023 के लिए भारत की विश्व कप टीम इस प्रकार है :-

रोहित शर्मा (कप्तान), विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह, शुभमन गिल, केएल राहुल, हार्दिक पंड्या (उपकप्तान) , श्रेयस अय्यर, रवींद्र जडेजा, ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव, कुलदीप यादव, मो. सिराज, मो. शमी, अक्षर पटेल और शार्दुल ठाकुर।

19वें एशियाई खेलों के लिए भारत की पुरुष क्रिकेट टीम :-

ऋतुराज गायकवाड़ (कप्तान), यशस्वी जयसवाल, राहुल त्रिपाठी, तिलक वर्मा, रिंकू सिंह, जितेश शर्मा (विकेटकीपर), वॉशिंगटन सुंदर, शाहबाज अहमद, रवि बिश्नोई, आवेश खान, अर्शदीप सिंह, मुकेश कुमार, शिवम मावी, शिवम दुबे, प्रभसिमरन सिंह (विकेटकीपर)।

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें