पेट में गैस बनने के बाद शरीर के इन हिस्सों में होती है दर्द, फिर रात की नींद भी हो जाती है खराब

अगर आपके भी गैस बनती है तो ये आर्टिकल आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकता है क्योंकि पेट की गैस न सिर्फ पेट को बल्कि शरीर के बहुत से अंगों को प्रभावित कर सकती है। कभी-कभी सीने में उठने वाला तेज दर्द भी गैस की वजह से होता है लेकिन इसके लक्षण अलग होते हैं। 

Gastric Pain

अगर आप भी गैस की समस्या से दो-चार होते हैं तो आपको ये जान लेना चाहिए की गैस बनने पर शरीर से कौन-कौन से अंग प्रभावित हो सकते हैं तो चलिए इसके बारे में आगे इस लेख में विस्तार से चर्चा करते हैं :-

सीने में होने वाला दर्द

गैस बनने पर अगर ये सीने में फंस जाती है तो सीने में तेज दर्द हो सकता है। ये दर्द काफी असहनीय होता है। अधिकतर लोग इसे हार्ट अटैक समझते हैं। लेकिन ये हार्ट अटैक ना होकर गैस की वजह से होने वाला दर्द भी हो सकता है। ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए। 

पेट में हो सकता है दर्द

जब गैस बनती है तो सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला पार्ट हमारा पेट होता है। पेट के ऊपर, नीचे या बीच में दर्द शुरू हो सकता है।  अगर आप घरेलू इलाज करना चाहते हैं तो आप गुनगुना पानी पिए, हींग का सेवन करें आपको आराम मिलेगा लेकिन अगर लंबे समय तक एक दर्द बना हुआ है तो आप जरूर हेल्थ विशेषज्ञ के पास जाएं। 

कमर में उठने वाला तेज दर्द

अगर कमर में दर्द है तो हो सकता है ये गैस की वजह से हो क्योंकि जब कमर के निचले हिस्से में गैस फंस जाती है तो काफी दर्द होता है। ऐसी स्थिति में उठने-बैठने में परेशानी हो सकती है। 

जोड़ो में दर्द की समस्या

जोड़ों में होने वाला दर्द अर्थराइटिस की वजह से हमेशा नहीं होता,  बल्कि गैस की वजह से भी हो सकता है। नसों में गैस बनने की वजह से ये घुटनों और जॉइंट के बीच बुलबुले के रूप में भर जाती है।  ऐसी स्थिति में जोड़ों के का दर्द आपको परेशान कर सकता है। 

दिमाग पर चढ़ सकती है गैस

अधिकतर खाली पेट होने की वजह से जब गैस बनती है तो ये आपके सर पर भी चढ़ सकती है। जिस वजह से आपको तेज सर दर्द हो सकता है। 

न होने दे गैस की समस्या

अगर आप चाहते हैं कि आपको तेज दर्द की समस्या से परेशान ना होना पड़े तो इसके लिए बहुत जरूरी है कि आप अपने पेट में गैस न बनने दें। ज्यादा समय तक खाली पेट ना रहें। नियमित रूप से छाछ का सेवन करें, जिससे पेट से जुड़ी सारी समस्याएं खत्म होने में मदद मिलती है। छाछ आपके पेट के पीएच को बैलेंस करता है और एसिडिटी को दूर करने में मदद करता है। रोज एक्सरसाइज भी करें जिससे आप स्वस्थ जीवन जी सकें। 

WhatsApp चैनल ज्वाइन करें